महाराज ईश्वर सिंह लोधी

11-12वि शताब्दी के लोधी क्षत्रिय शूरमा हिंडोल (दमोह) नरेश महाराज ईश्वर सिंह लोधी जिन्होंने महोबा के चंदेलों से अपनी मित्रता , और अपने क्षात्र धर्म को निभाने के लिए दिल्ली नरेश की एक लाख की शेना का अपनी 56 हजार की सेना के साथ युद्ध किया और उन्हें पराजित भी किया । इस युद्ध के बाद उन्हें "तलवार के धनि "की उपाधी दी गयी । महाराज ईश्वर सिंह लोधी और महाराज पृथ्वी राज चौहान के इस युद्ध का वर्णन चंदरबाई द्वरा लिखित " प्रथ्विराज रासो " में वर्णित हे।


महाराज ईश्वर सिंह लोधी 



महाराज पृथ्वी राज चौहान ki Prajay




Hindol(Hata/Hindoriya/Damoh)Nagar





Lodhi Fort